पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण Pahli timahi mein ek ladka hone ke lakshan

पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण . पहली तिमाही में बेबी बॉय होने के लक्षण – Signs of having baby boy in first trimester in Hindi आइए दोस्तों आज हम आपको बताते हैं, कि पहली तिमाही में लड़का होने के लक्षण क्या-क्या होते हैं। Pahli timahi mein ek ladka hone ke lakshan

दोस्तों वैसे तो लड़का और लड़की में कोई भेदभाव नहीं होता है, क्योंकि लड़का और लड़की एक समान होते हैं, लेकिन उसके बावजूद भी कई सारे लोगों का ऐसा मानना है, कि वंश को आगे बढ़ाने के लिए एक couple को लड़के ज्यादा आवश्यकता होती है।

लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। लड़की भी आपका वंश आगे ही बढ़ाती है, इसीलिए हमें और आपको लड़का और लड़की में कोई भेदभाव नहीं करना चाहिए। इसके अलावा आजकल तो गर्भ में लड़के की जांच करना भी कानूनी अपराध बताया गया है। मां के गर्भ में लड़कें ओर लडकी की जांच करना बहुत ही बड़ा बाप होता है। लेकिन कुछ ऐसे तरीके हैं।

जिनसे आप यह पता लगा सकते हैं, कि पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण क्या है। पहली तिमाही में भी लड़का होने पर हमें कई सारे लक्षण दिखाई देते हैं, लेकिन हमें इस बात का पता नहीं चलता है, कि हमारे गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का है या लड़की है।

लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे कारण बताएंगे। जिनसे आप यह पता लगा सकते हैं, कि पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण क्या क्या होते हैं। कुछ ऐसे कारण होते हैं। जिनसे हम महिला के शरीर से यह पता लगा सकते हैं, कि महिला के गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का है या लड़की

अगर आप यह अनुमान लगाना चाहते हैं, कि आप के गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का है लड़की तो हमारी वेबसाइट पर बनी रहे, तो चलिए जान लेते हैं
पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण के बारे में कि पहली तिमाही में एक लड़का होने पर कौन-कौन से लक्षण दिखाई देते हैं।

पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण

पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण मॉर्निंग सिकनेस

पहली तिमाही में गर्भवती महिला को मॉर्निंग सिकनेस बहुत कम होते हैं यानी उल्टी मतली जैसी समस्या कम रहती है, तो ऐसा कहा जाता है कि महिला के गर्भ में लड़का है और अगर गर्भवती महिला को मॉर्निंग सिकनेस ज्यादा रहती है, तो गर्भवती महिला के गर्भ में लड़की है।

पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण पैरों का ज्यादा ठंडा होना

अगर किसी गर्भवती महिला के गर्भ में लड़का होता है, तो पहली तिमाही में महिला के पैर बहुत ज्यादा ठंडे रहते हैं। इससे आप यह अनुमान लगा सकते हैं, कि महिला के गर्भ में लड़का है और महिला के शरीर का तापमान बढ़ा हुआ रहता है तो लड़की होती है।

पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण मूड स्विंग्‍स होना

अगर किसी गर्भवती महिला को पहली तिमाही में बहुत ज्यादा मूड स्विंग्‍स होती है यानी गर्भवती महिला को बहुत ज्यादा गुस्सा आता है और तूरंत गुस्सा शांत हो जाता है, तो ऐसा कहा जाता है कि गर्भवती महिला के गर्भ में लड़का होता है और अगर महिला को तीसरी तिमाही में मूड स्विंग्‍स बिल्कुल भी ना हो, तो इस बात से यह पता लगता है कि गर्भ में लड़की है।

पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण पैशाब का रंग

अगर आपके गर्भ में पहली तिमाही में लड़का है गर्भवती महिला के पैशाब का रंग पीला हो जाता है इससे यह अनुमान लगाया जाता है कि गर्भवती महिला के गर्भ में लड़का है और अगर गर्भवती महिला को पहली तिमाही में पैशाब बिल्कुल नॉर्मल लगते हैं तो गर्भवती महिला के गर्भ में लड़की होती है।

पहली तिमाही में एक लड़का होने के लक्षण फूड क्रेविंग

अगर गर्भवती महिला के गर्भ में पहली तिमाही में लड़का होता है, तो महिला को बहुत ज्यादा फूड क्रेविंग होती है यानी महिला को बहुत ज्यादा खट्टा मीठा और चटपटा खाने का मन करता है, तो महिला के गर्भ लड़का होता है और अगर गर्भवती महिला गर्भ में लड़की होती है, तो महिला का बहुत ज्यादा मीठा खाने का मन करता है।